अभी से ठीक एक मिनट पहले मेरे यहाँ अग्नि सूचक यानि कि फायर अलार्म बज पड़ा। थोड़ा घबराना स्वभाविक था। दौड़ कर दरवाजा खोला। तो देखता हूँ कि सारे अपार्टमेंट कामप्लेक्स में बज रहा हैं। थोड़ी तसल्ली हूई। वापिस आकर बीवी को बताया कि खतरे की बात नहीं। फिर वापिस बाहर निकला तो एक और भी मजेदार नजारा देखने को मिला। 10-12 जितने भी घरों के दरवाजे खुले थे सबमें से भारतीय झांक रहे थे। अब अलग अलग समय ऊपर नीचे जाते हुए किसी किसी से मुलाकात हो जाती है और हम भी हाय हैलो कर देते हैं। पर एक साथ हम लोग इतने सारे हैं इस बात का आभास अभी हूआ। हाय ये अलार्म तो बंद नही हो रहा 5 मिनट से ज्यादा हो चुके हैं।